Covishield Update: देश में कोरोना की दूसरी लहर का कहर धीरे-धीरे थम रहा है. हालांकि केरल और महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ रहे मामले ने सरकार की टेंशन बढ़ा रखी है. भारत में फिलहाल तीन कोरोना रोधी वैक्सीन (Corona Vaccine) 18 साल की उम्र से ऊपर के लोगों को दी जा रही है. उम्मीद की जा रही है कि जल्द ही कुछ और वैक्सीन आ जाएगी, जिससे कोरोना के खिलाफ लड़ाई और तेज होगी.Also Read - Corona Update: देश में आज आए 38,948 नए केस, एक्‍ट‍िव मरीज 4 लाख 4 हजार से अधिक

भारत में फिलहाल कोविशील्ड (Covishield), कोवैक्सिन (Covaxin) और रूसी स्पुतनिक V (Sputnik V) का इस्तेमाल किया जा रहा है. कुछ और वैक्सीन परीक्षण के अलग-अलग स्टेज में हैं. तीनों वैक्सीन के पहली और दूसरी डोज के बीच का अंतर अलग-अलग है. इनमें सबसे ज्यादा गैप COVISHIELD के दो डोज के बीच है. फिलहाल 84 दिनों के अंतराल पर कोविशील्ड की दो डोज दी जाती है. पहले इसका गैप कम था, लेकिन सरकार ने इसे बढ़ा दिया था. उधर, केंद्र सरकार ने शुक्रवार को केरल हाईकोर्ट में यह बताया कि कोविशील्ड वैक्सीन की पहली और दूसरी खुराक के बीच 84 दिन का गैप क्यों रखा गया है. Also Read - COVID19 Update: देश में आज आए कोरोना के 42,766 नए केस, एक्‍टिव मरीज 4.10 लाख से ज्‍यादा

केंद्र सरकार ने शुक्रवार को केरल हाईकोर्ट में बताया कि कोविशील्ड वैक्सीन की पहली और दूसरी डोज के बीच 84 दिनों की अवधि COVID-19 के खिलाफ सर्वोत्तम सुरक्षा प्रदान कर रही है. किटेक्स गारमेंट्स लिमिटेड के रिट के जवाब में केंद्र सरकार की तरफ दाखिल किये गए हलफनामे में यह बात की गई. किटेक्स गारमेंट्स ने याचिका दायर कर 84 दिन का इंतजार किए बिना अपने कर्मियों को कोविशील्ड की दूसरी खुराक लगाने की अनुमति मांगी थी. केरल हाईकोर्ट ने बीते मंगलवार को मामले पर फैसला सुरक्षित रख लिया था. Also Read - Coronavirus in Delhi: दिल्ली में कोविड-19 के 55 नए मामले, संक्रमण से किसी मरीज की मौत नहीं

उधर, केरल की स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने शुक्रवार को कहा कि 6 जिलों में कोविशील्ड वैक्सीन की कमी हो गई है, जबकि राज्य भर में टीकों का स्टॉक सिर्फ 1.4 लाख खुराक है. उन्होंने कहा, हमने केंद्र से जल्द से जल्द टीकों के स्टॉक को भरने को कहा है, और हमें उम्मीद है कि यह बहुत जल्द आ जाएगा.

कोल्लम, कोट्टायम, एनार्कुलम, त्रिशूर, कोझीकोड और कन्नूर में कोविशील्ड के टीके खत्म हो गए हैं. उन्होंने यह भी कहा कि अब तक 18 वर्ष से अधिक आयु के 75 प्रतिशत लोगों को टीके की पहली खुराक दी जा चुकी है. जॉर्ज ने कहा, अब तक 2.95 करोड़ लोगों को एक खुराक मिल चुकी है और इसमें 79.60 लाख लोग शामिल हैं जिन्होंने दोनों खुराक प्राप्त की हैं. अगस्त के महीने में, 88 लाख वैक्सीन खुराक प्रशासित किए गए थे. इस महीने के अंत तक हम 18 साल की उम्र वाले और सभी को एक खुराक देने की योजना बना रहे हैं.

(इनपुट: ANI)