Inzam Ul Haq Laud Rohit Sharma Hundred at The Oval Test says Best Knock Of His Career: भारते के स्टार ओपनिंग बल्लेबाज रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को इंग्लैंड में लगातार बेहतरीन खेल का आज आखिरकार फल मिल ही गया. रोहित शर्मा ने इग्लैंड के खिलाफ द ओवल टेस्ट (India vs England) में भारत की दूसरी पारी के दौरान शानदार शतक जमाया. उन्होंने 256 गेंदों की अपनी पारी में 14 चौकों और 1 छक्के की मदद से 127 रन बनाए. विदेशी जमीन पर यह उनका पहला टेस्ट शतक है. पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इंजमाम उल हक (Inzamam Ul Haq) भी रोहित की इस पारी पर पूरे फिदा नजर आए और उन्होंने कहा कि यह पारी रोहित के टेस्ट जीवन से सर्वश्रेष्ठ पारी है.Also Read - IND vs ENG, 5th Test: रात 12:30 बजे आएगी भारतीय टीम की Covid-19 रिपोर्ट, जोस बटलर को है मैच की उम्‍मीद

रोहित शर्मा की इस पारी की बदौलत भारत ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक 3 विकेट पर 270 रन बना लिए हैं. भारत अब इंग्लैंड से 171 रन आगे है, जबकि इस मैच में अभी 2 दिन का खेल बाकी है. इंजमाम उल हक (Inzamam Ul Haq) ने अपने यूट्यूब चैनल पर रोहित की इस पारी की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने अपने स्वभाव के विपरीत यह पारी खेली है और इसलिए उनकी जितनी तारीफ की जाए वह कम है. Also Read - India vs England 5th Test: सौरव गांगुली को मैनचेस्‍टर टेस्‍ट के आयोजन पर है संदेह, टीम में फैला है कोरोना

इंजमाम अपने यूट्यूब चैनल ‘द मैच विनर’ (You Tube Channel The Match Winner) पर भारत और इंग्लैंड टेस्ट मैच में तीसरे दिन के खेल की समीक्षा कर रहे थे. इस दौरान उन्होंने कहा, ‘रोहित शर्मा (Rohit Sharma) स्वभाविक रूप से स्ट्रोक प्लेयर हैं. वह हमेशा रन बनाना और शॉट खेलना पसंद करते हैं. लेकिन उन्होंने यहां ऐसा नहीं किया वह लंबे समय तक क्रीज पर डटे रहे और रक्षात्मक अंदाज में अपनी पारी को आगे बढ़ाया. रोहित (Rohit Sharma) इंग्लैंड के गेंदबाजों की अच्छी गेंदों को हमेशा सम्माद देते दिखे क्योंकि टीम को ऐसी ही जरूरत थी.’ Also Read - Afghanistan Women Cricket Ban: महिला क्रिकेट हुआ बैन तो पुरुष टीम के खिलाफ भी नहीं खेलेगा ऑस्‍ट्रेलिया, CA ने लिया फैसला

51 वर्षीय इंजमाम (Inzamam Ul Haq) ने आगे कहा, ‘रोहित ने अपना शतक छक्का जड़कर पूरा किया, जिससे उन्होंने यह साफ संदेश दिया कि वह शॉट खेलने वाला अपना स्वभाविक खेल भी खेल सकते हैं. लेकिन इस समय टीम की जरूरत उनके वहां टिकने की थी इसलिए वह शांत स्वभाव से यह पारी खेल रहे थे.’

इंजमाम ने इसके अलावा भारत के भरोसेमंद बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) के खेल की भी तारीफ की. उन्होंने कहा कि पुजारा ने आज जिस अंदाज में खेल चलाया वह काबिलेतारीफ है. उन्होंने अच्छी गेंदों को सम्मान दिया और कमजोर गेंदों को सीमारेखा के पार पहुंचाने में कोई गुरेज नहीं किया. पुजारा 61 रन बनाकर आउट हुए.

इंजमाम ने कहा कि यह मैच अब पूरी तरह भारत की गिरफ्त में है और मैच के चौथे दिन भारत को दिन के पहले दो सत्रों तक खेलना चाहिए और पहले घंटे के खेल के बाद रनों की रफ्तार 6 रन प्रति ओवर कर देनी चाहिए, जिससे इंग्लैंड पर रन और समय दोनों का दबाव बनाया जा सके.