Battlegrounds Mobile India: पिछले दिनों ही भारतीय बाजार में Battlegrounds Mobile India गेम ने दस्तक दी थी और लॉन्च के बाद से ही यह प्लेयर्स के बीच काफी लोकप्रिय हो रहा है. शुरुआत में इसे केवल एंड्राइड फोन के लिए ही रोलआउट किया गया था लेकिन हाल ही में कंपनी ने इस गेम को आईओएस यूजर्स के लिए भी उपलब्ध करा दिया है. यानि अब इस गेम का मजा एंड्राइड और आईओएस दोनों प्लेटफॉर्म पर लिया जा सकता है. लेकिन प्लेयर्स को गेमिंग के दौरान खास बातों को ध्यान रखना होगा क्योंकि कंपनी किसी भी तरह की गलती का नजरअंदाज नहीं करेगी. इसका उदाहरण हाल ही में देखा गया जिसमें Battlegrounds Mobile India ने 2 लाख यूजर्स का अकाउंट बैन कर दिया है. वैसे अकाउंट बैन करने का यह पहला मामला नहीं है, इससे पहले भी गेम जीतने के लिए गलत तरीकों का इस्तेमाल करने पर कुछ अकाउंट बैन किए थे. आइए जानते हैं पूरी डिटेल.Also Read - Portronics ने लॉन्च किया 'Pure Sound 101' साउंड बार, कीमत 8 हजार रुपये से कम

Battlegrounds Mobile India डेवलपर कंपनी क्राफ्टन हर हफ्ते एक रिपोर्ट जारी करती है, जिसमें अकाउंट बैन की संख्या का खुलासा किया जाता है. इस बार क्राफ्टन द्वारा जारी रिपोर्ट में जानकारी दी गई है कि 20 अगस्त से 26 अगस्त के बीच कंपनी ने 1,95,423 अकाउंट्स को बैन किया है. इससे पहले भी कंपनी ने जुलाई में लगभग 10 लाख अकाउंट्स को बैन किया था. Also Read - Selmon Bhoi Game: कोर्ट ने लगाया सेलमॉन भाई गेम पर बैन, जानें क्या है कारण

Battlegrounds Mobile India: अकाउंट बैन करने की वजह
Battlegrounds Mobile India डेवलपर कंपनी क्राफ्टन अपने प्लेयर्स की सिक्योरिटी का पूरा ख्याल रखती है और साथ ही उम्मीद करती है कि प्लेयर्स कंपनी के नियमों का ध्यान रखेंगे. लेकिन यदि कोई प्लेयर गेम जीतने के लिए चीटिंग करता है और उसकी शिकायत कर दी जाए, तो कंपनी उसका अकाउंट बैन कर सकती है. इस बार भी कंपनी ने उन अकाउंट्स को बैन किया है जो गेम जीतने के लिए धोखाधड़ी कर रहे थे. Also Read - TCL 20Y: लॉन्च हो गया एक और दमदार फीचर्स वाला स्मार्टफोन, जानिए कीमत और स्पेसिफिकेशन्स

Battlegrounds Mobile India: न करें ये गलतियां
Battlegrounds Mobile India खेलते समय आपको कुछ गलतियां करने से बचना है. कंपनी स्पष्ट कर चुकी है कि इसके लिए अनधिकृत प्रोग्राम या हार्डवेयर डिवाइस उपयोग करने पर आपका अकाउंट बैन किया जा सकता है. गेमिंग के दौरान प्लेयर्स गेम क्लाइंट, सर्वर या गेम डाटा को मॉडिफाई न करें. गेमिंग में गलती से भी नस्लीय या यौन भेदभाव न करें ऐसा करने पर आपका अकाउंट बैन हो जाएगा.