Afghanistan News: तालिबान ने कहा है कि वेस्टर्न यूनियन अफगानिस्तान में अपना कामकाज फिर से शुरू करेगी. इससे नकदी की कमी का सामना कर रहे देश में विदेशी धन के प्रवाह का एक दुर्लभ माध्यम खुल जाएगा. समूह के सांस्कृतिक आयोग के प्रवक्ता अहमदुल्ला मुत्ताकी ने शुक्रवार को इस फैसले की घोषणा की.Also Read - NSA अजित डोभाल व शीर्ष रूसी सुरक्षा अधिकारी  ने अफगान संकट पर बातचीत की

गौरतलब है कि 15 अगस्त को तालिबान के काबुल पर कब्जा करने के बाद अमेरिकी वित्तीय सेवा क्षेत्र की दिग्गज कंपनी ने अफगानिस्तान में अपना कामकाज बंद कर दिया था. इस फैसले से उन अफगानियों को खास राहत मिलेगी जिनके रिश्तेदार विदेशों में रहते हैं. Also Read - अफगानिस्तान का खुफिया विभाग आतंकियों के हाथ! जेल से ओबामा सरकार ने किया था रिहा

संकटग्रस्ट देश में लोग रोजाना सैकड़ों की संख्या में बैंकों के बाहर नकदी निकालने के लिए लाइन लगा रहे हैं. यहां एक दिन की धन निकासी सीमा 200 डॉलर तय है और एटीएम मशीनें काम नहीं कर रही हैं. Also Read - Top के आतंकवादियों को तालिबान सरकार में मिला स्थान, कोई बना प्रधानमंत्री तो कोई गृहमंत्री

(इनपुट भाषा)